मिथिला में यह देवी आज भी करती है राजा के छुपे हुए खजाने की रक्षा !

Read more: मिथिला में यह देवी आज भी करती है राजा के छुपे हुए खजाने की रक्षा !

१२३४ ई० से लेकर १२९३ई० तक बंगाल में सेन राजवंश का शासन था | किन्तु जब वहां देवा राजवंश की स्थापना हुई तो सेन राज वंश  के वारिश वहां से पलायन कर मिथिला आ गए |

कैसे आया खज़ाना !

सेन वंश के एक शासक रत्नसेन के नामपर ही इस गाँव का नाम रत्नपुर पड़ा , जो कालान्तर में रतनपुर हो गया |उन्होंने रतनपुर गाँव स्थित दुर्गामंदिर के नजदीक एक किला बनाया |

रत्नसेन की कुल देवी रत्नेश्वरी भगवती थी और उनकी कृपा से ही राजा रत्नसेन सिंह ने खोई राजधानी दोबारा प्राप्त कर पाए थे |एक मान्यतानुसार लक्ष्मी स्वरूपा माँ जगदम्बा आज भी राजा रत्नसेन की अकूत सम्पति ,जो यही कही दबी हुयी हैं , की रक्षा करती हैं |

कैसा है भगवती  मंदिर

जाले प्रखंड स्थित रतनपुर गांव मे लगभग 75 फीट ऊंचे टीले पर अवस्थित मां रत्नेश्वरी का मंदिर , भगवती वैष्णवी दुर्गा पीठ के रूप , सम्पूर्ण मिथिलांचल में प्रसिद्ध है | लोग इन्हें लक्ष्मी स्वरूपा दुर्गा मानते हैं | 

यही कारण है कि सम्पूर्ण मिथिलांचल से भक्त मैया की दर्शन करने आते आते हैं | शारदीय और वासंती नवरात्रा में माँ की पूजा वैष्णवी  पद्धति से होती है |

मंदिर में बलिप्रदान नहीं दी जाती है |मंदिर में माँ की प्रतिमा के स्थान पर उनकी पिंडी स्वरूप है |

Latest Articles

मिथिला में यह देवी आज भी करती है राजा के छुपे हुए खजाने की रक्षा !

Jaale Ratneshwari Temple Darbhanga

१२३४ ई० से लेकर १२९३ई० तक बंगाल में सेन राजवंश...

मधुबनी में है मिथिला का प्रसिद्द प्रबल-सिद्धपीठ भगवती स्थान उचैठ

Ucchaith Temple Madhubani

भगवती स्थान उचैठ  मधुबनी जिला के बेनीपट्टी...

तैरते जहाज जैसा हैं भागलपुर का अजगैवीनाथ महादेव मंदिर !

Ajgaibinath Temple Story  Bhagalpur

सुल्तानगंज प्राचीन काल का एक स्थान है | जो...

Most Read Articles

कौन थे राजा सल्हेश ?

King Salhesh is regarded as a god by people in Mithila

राजा सल्हेश को  मधुबनी जनपदों में सर्वजातीय...

11 Most Important Historical Places In Mithila

Janki Mandir is the biggest temple of Janakpur

In modern era mithila is a virtual region...

सीता की वास्तविक जन्मभूमि सीतामढ़ी है या पुनौरा ?

A View of janki temple in Sitamarhi

कहा जाता है कि  त्रेता युग में  रावण का...