perokia - sweeta delicasy of mithila

पिरोकिया(mawa ki gujiya)

Food

perokia - sweeta delicasy of mithila

पिरोकिया एक प्रकार का मीठा व्यंजन है जो मिथिला मे पर्व त्योहार के अवसर पर घरों में बनाया जाता है|यह आटे से बने तिकोने आकार में सूजी या मावा डालकर बनाया जाता है|

सामग्री

  • खोवा (मावा) – 400 ग्राम(2 कप)
  • सूजी – 100 ग्राम (1 कप)
  • घी – 2 टेबल स्पून
  • चीनी – 400 ग्राम (2 कप)
  • काजू – 100 ग्राम (एक काजू को 5-6 टुकड़े करते हुये काट लीजिये)
  • किशमिश – 50 ग्राम (डंठल हों तो, तोड़ दीजिये)
  • छोटी इलाइची – 7-8 (छील कर कूट लीजिये)
  • सूखा नारियल – 100 ग्राम (1 कप कद्दूकस किया हुआ)
  • आटा तैयार करने के लिये
  • मैदा – 500 ग्राम (4 कप)
  • घी – 125 ग्राम (2/3 कप ) आटा गूथने में डालने के लिये
  • रिफाईन ( घी) – पेरुकीय तलने के लिये।

विधि

भारी तले की कढ़ाई में खोवा(मावा) को हल्का लाल होने तक भूनिये और एक बर्तन में निकाल लीजिये. कढ़ाई में घी डाल कर, सूजी डालिये, हल्का लाल भून कर, एक प्लेट में निकाल लीजिये. चीनी को पीस लीजिये. सूखे मेवे कटे हुये तैयार हैं. मावा, सूजी, चीनी और मेवों को अच्छी तरह मिला लीजिये. पेरुकीय में भरने के लिये तैयार है.

मैदा को बर्तन में छान कर निकाल लीजिये. घी पिघला कर आटे में डाल कर, अच्छी तरह मिलाइये. अब आटे में पानी की सहायता से कड़ा आटा गूथ लीजिये. आटे को आधा घंटे के लिये गीले कपड़े से ढककर रख दीजिये.

आटे को खोलिये और मसल मसल कर मुलायम कीजिये. आटे से छोटी छोटी लोई तोड़ कर बना लीजिये लोइयों को गीले कपड़े से ढककर रखिये, एक लोई निकालिये 4 इंच के गोल पूरी बेलिये, बेली हुई पूरी थाली में रखते जाइये. जब 10 – 12 पूरियां थाली में हो जायं, अब इन्हैं भर कर पेरुकीय तैयार कर लीजिये. पूरी को हाथ पर रखना, पूरी के ऊपर मिश्रण रखना, मोड़ कर, बन्द करना, और गोंठना.

अब मोटे तले की कढ़ाई में घी डाल कर गरम कीजिये. गरम घी में 7-8 पेरुकीय डालिये, धीमी और मीडियम आग पर हल्के लाल होने तक पलट पलट कर तल लीजिये. कढ़ाई से पेरुकीय, थाली में निकालिये और किसी डलिया या बड़े चौड़े बर्तन में रखते जाइये. सारी इसी तरह तल कर निकाल लीजिये. लीजिये आपकी पेरुकीय तैयार हैं. गरमा गरमा पेरुकीय परोसिये और खाइये. बची हुई पेरुकीय ठंडी होने के बाद एअर टाइट कन्टेनर में भरकर रख दीजिये. स्वादिष्ट पेरुकीय 15-20 दिनों तक जब भी आपका जब मन करे निकालिये और खाइये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *